अखिल श्रीवास्तव, श्रीधर उपाध्याय, मंजू उपाध्याय, कुलदीप सिंह
अखिल श्रीवास्तव, श्रीधर उपाध्याय, मंजू उपाध्याय, कुलदीप सिंह

आगरा। आज दिनांक 10 जून 2019 दोपहर 12 बजे से राष्ट्रीय स्तर के कुकिंग कांटेस्ट “गोल्डन ऑय शेफ 2019” के लिए पंजीकरण / रजिस्ट्रेशन की शुरूआत एक सादे समारोह में अंतर्दृष्टि सदस्यों द्वारा की गई। 30 जून 2019 रात 12 बजे तक इच्छुक प्रतिभागी कांटेस्ट की वेबसाइट www.goldeneyechef.com पर जा कर अपना पंजीकरण करवा सकते है।

अपने तरह के एक अनूठे कांटेस्ट “गोल्डन ऑय शेफ 2019 – कुकिंग बियॉन्ड सीइंग” जिसमे देश भर के चुने हुए 32 दृष्टिहीन अपनी पाक कला (कुकिंग) का प्रदर्शन कर गोल्डन ऑय शेफ 2019 अवार्ड जीतने की कोशिश करेंगे, के लिए कांटेस्ट की वेबसाइट www.goldeneyechef.com रजिस्ट्रेशन के लिए खोल दी गई है।

कांटेस्ट को दो श्रेणियों (1. पूर्ण रूप से दृष्टिहीन 2. आंशिक रूप से दृष्टिहीन) में आयोजित किया जायेगा, और प्रत्येक श्रेणी में देश भर से चुने गए 16 दृष्टिहीन अपनी पाक कला का कौशल दिखाएंगे। कांटेस्ट में सिर्फ दृष्टिहीन भारतीय नागरिक, जिनकी उम्र 16 अक्टूबर 2019 तक 18 वर्ष से ऊपर होगी ही भाग ले सकते है।

दृष्टिहीन युगल श्रीधर एवं मंजू उपाध्याय ने उम्मीद जताई की इस तरह के कांटेस्ट से समाज में एक बड़ा बदलाव आएगा। लोगो की सोच बदलेगी और दृष्टिहीनों को भी किचन में खाना बनाने के मौके मिलेंगे।

Manju Upadhyay
मंजू उपाध्याय

“मैं हर दिन घर में खाना बनाती हूँ , यदि मुझे खाना बनाना नहीं आता होता तो मेरी और मेरे परिवार की जिंदगी कैसे चलती। मैं खाना बहुत अच्छा बनाती हूँ और इस कांटेस्ट में भाग भी लेना चाहती थी लेकिन अंतर्दृष्टि से जुड़ी होने के कारण मैं इस अवसर का लाभ नहीं ले सकती। दृष्टिहीनों के लिए सच में यह एक बड़ा मौका है समाज को यह बताने का कि वह किसी से कम नहीं।”

– मंजू उपाध्याय

शेफ कुलदीप सिंह ने गोल्डन ऑय शेफ 2019 के आयोजन के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि आगरा में कुकिंग की दुनिया से जुड़े लोग पूरी तरह से इस आयोजन को भव्यता के साथ सफल बनाने के लिए तैयार है। दुनिया में अपनी तरह का यह अनोखा आयोजन पाक कला की दुनिया में एक अमिट छाप छोड़ने को तैयार है।

अंतर्दृष्टि के मैनेजिंग ट्रस्टी अखिल श्रीवास्तव ने दुनिया की पहली दृष्टिहीन मास्टर शेफ “क्रिस्टीन हा” का एक वीडियो दिखाते हुए बताया कि जब फॉक्स टीवी पर गॉर्डन रामसे के “मास्टर शेफ” सीजन 3 प्रतियोगिता की विजेता बन कर “क्रिस्टीन हा” दुनियाँ को यह सोचने के लिए मज़बूर कर सकती है कि दृष्टिहीन किसी से कम नहीं तो भारत के दृष्टिहीन क्यों नहीं। बस मौका मिलने की बात है। और गोल्डन ऑय शेफ पर काम शुरू हो गया।

अंतर्दृष्टि पिछले दो साल से इस कांटेस्ट पर काम कर रही थी और सभी के सहयोग से आज गोल्डन ऑय शेफ – कुकिंग बियॉन्ड सीइंग की शुरुआत कर रहे है।

  • अखिल श्रीवास्तव
  • श्रीधर उपाध्याय
  • अखिल श्रीवास्तव
  • Antardrishti Volunteers
  • अखिल श्रीवास्तव

About Author